Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

ई-श्रम कार्ड (Labour Card) क्या है ? कैसे बनाये ?

 E Shram Card क्या है ? | E Shram कार्ड के फायदे क्या है 

E Shram Portal 2021

केंद्रीय रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव द्वारा ई-श्रम पोर्टल की शुरुवात की है। E Shram Portal के दुबारा से 38 करोड असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का नेशनल डेटाबेस तैयार किया जाएगा जो कि आधार से सीड किया जाएग, जिससे मजदूरों, रेहड़ी पटरी वालों एवं घरेलू कामगारों को एक साथ जोड़ा जाएगा। पोर्टल पर नाम, पता, शैक्षिक योग्यता, कौशल का प्रकार, परिवार से संबंधित जानकारी दर्ज की जाएगी। श्रमिकों को एक साथ जोड़ने के साथ-साथ इस पोर्टल के माध्यम से उनको कई तरह की सुविधाएं भी प्रदान की जाएंगी। सभी पंजीकृत श्रमिकों को एक 12 अंकों का ई कार्ड प्रदान किया जाएगा, जो कि पूरे देश में मान्य होगा। इस कार्ड से श्रमिकों को कई तरह की योजनाओं का लाभ भी पहुंचाया जाएगा।

हम e shram card के बारे में बात करने वाले हैं। श्रम और रोजगार मंत्रालय के द्वारा ई श्रम कार्ड का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू कर दिया गया है अब आप e shram card online registration घर बैठे कर सकते हैं, यह कार्ड बनने के बाद आपको सरकार की बहुत सारी योजनाओं का लाभ मिलेगा , e shram ke fayde मजदूरों को किस प्रकार मिलेंगे।

 

E Shram Card(ई-श्रम) क्या है ?

बीच में काम करने वाले असंगठित लोगों का सरकार डाटा इकट्ठा कर रही है जैसा कि आप ने one nation one card के बारे में सुना होगा इसके तहत पूरे देश में एक राशन कार्ड लागू किया गया। जैसे कि आई आयुष्मान कार्ड जारी किया गया है इसी तरह ई-श्रम कार्ड भारत सरकार द्वारा जारी किया गया है इसी प्रकार सरकार एक आंकड़ा तैयार कर रही है जिसमें देश के अंदर जितने भी लोग जो असंगठित क्षेत्र में काम करते हैं उनकी सारी जानकारी गवर्नमेंट के पास होगी।

E Shram कार्ड के फायेदे 

जब भी गवर्नमेंट की कोई भी योजना जारी की जाती है तो इसका मकसद होता है की लोगों को इसका फायदा मिले। तो इसी प्रकार यदि आप ई श्रम कार्ड का रजिस्ट्रेशन करते हैं तो आपको बहुत सारे ई श्रम योजना के लाभ भविष्य में देखने को मिलेंगे जैसे-

  • यदि आप ई श्रम कार्ड के लिए ऑनलाइन करते हो तो आपको एक सरकार की तरफ से एक यूनिक आईडी कार्ड मिलती है। जिस पर यूनीक आईडेंटिफिकेशन नंबर होते हैं,
  • नए और बेहतर रोजगार के अवसर मिलेंगे।
  • सरकार यदि आने वाले समय में किसी आपदा के चलते असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदूरों को कोई आर्थिक लाभ देना चाहेगी तो इस e shram card के डाटा से सभी मजदूरों की मदद हो पायेगी।

e shram card ke लाभ 

यदि कोई व्यक्ति असंगठित क्षेत्र में काम करता है और उसने अपना ई श्रमिक कार्ड बना रखा है तो सरकार आने वाले समय में उनके बच्चो को छात्रवत्ति दे सकती है।

2 लाख रुपये का मुफ्त दुर्घटना बीमा की सुविधा

यदि कोई कर्मचारी ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण करता है तो उसे 2 लाख रुपये के दुर्घटना बीमा का लाभ मिलेगा. इसमें सरकार की ओर से एक साल का प्रीमियम दिया जाएगा. यदि कोई पंजीकृत कर्मचारी किसी दुर्घटना का शिकार होता है तो उसकी मृत्यु या पूर्ण रूप से अपंग होने की स्थिति में वह 2 लाख रुपये का हकदार होगा. वहीं, आंशिक रूप से विकलांगों के लिए बीमा योजना के तहत एक लाख रुपये दिए जाएंगे.

  •  
  • असंगठित क्षेत्र में काम करने वाला
  • उम्र 16 से 59 साल
  • इनकम टैक्स ना देता हो
  • आवेदन कर्त्ता EPFO और ESIC का सदस्य नहीं होना चाहिए।

जानें- कैसे पंजीकृत करें

  • ई-श्रम पोर्टल के आधिकारिक पेज https://www.eshram.gov.in/ पर जाएं.
  • फिर होमपेज पर, “ई-श्रम पर पंजीकरण” पर लिंक करें.
  • इसके बाद सेल्फ रजिस्ट्रेशन https://register.eshram.gov.in/#/user/self पर क्लिक करें.
  • स्व-पंजीकरण पर, उपयोगकर्ता को अपना आधार लिंक मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा.
  • कैप्चा दर्ज करें और चुनें कि क्या वे कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) या कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ESIC) विकल्प के सदस्य हैं और Send OTP पर क्लिक करें.
  • इसके बाद पंजीकरण प्रक्रिया को पूरा करने के लिए बैंक खाता विवरण आदि दर्ज करें और आगे की प्रक्रिया का पालन करें.

 

ई-श्रम पोर्टल और कार्ड से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें

– देश के असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिए ई-श्रम पोर्टल है
– देश के हर मजदूर का रिकॉर्ड रखा जाएगा
– पीएम श्रम योगी मानधन योजना का मिलेगा लाभ
– प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना का मिलेगा लाभ
– प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के दायरे में आएंगे मजदूर
– मुश्किल घड़ी में श्रमिकों को योजनाओं का मिलेगा लाभ
– ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन से 25 लाख रुपये का दुर्घटना बीमा
– दुर्घटना बीमा पर एक साल का प्रीमियम सरकार देगी
– रजिस्टर्ड श्रमिक की मृत्यु होने पर परिजनों को 2 लाख रुपये मिलेंगे, वहीं पूर्ण अपंग होने पर मजदूर 2 लाख रु. का हकदार होगा
– आंशिक रूप से विकलांग को 1 लाख रुपये मिलेगी
– ई-श्रम कार्ड पूरे देश में होगा मान्य
– दूसरे राज्यों में काम मिलने में भी होगी आसानी
– देश के करोड़ों असंगठित कामगारों को पहचान मिलेगी

 

​कार्ड में होगा 12 अंकों का UAN

ई-श्रम कार्ड में 12 अंकों का यूनिवर्सल अकाउंट नंबर यानी यूएएन रहेगा। ये कार्ड पूरे देश में हर जगह वैध रहेगा। यूएएन नंबर एक स्थायी नंबर होगा अर्थात् एक बार प्रदान किए जाने के बाद, यह कामगार के लिए अपरिवर्तित रहेगा। ई-श्रम कार्ड जीवन भर के लिए मान्य है। लिहाजा इसके रिन्युअल की कोई आवश्यकता नहीं है। कामगार नियमित रूप से अपना विवरण, मोबाइल नंबर, वर्तमान पता आदि अपडेट कर सकते हैं। अपने खाते को सक्रिय रखने के लिए, वर्ष में कम से कम एक बार अपना खाता अपडेट करना आवश्यक है। ई-श्रम पोर्टल पर जाकर या सीएससी के माध्यम से कामगार अपना विवरण अपडेट कर सकते हैं। अपडेट की जा सकने वाली डिटेल्स में मोबाइल नंबर, वर्तमान पता, व्यवसाय, शैक्षिक योग्यता, कौशल के प्रकार, पारिवारिक विवरण आदि शामिल हैं।

  1. जब कामगार 60 वर्ष का हो जाए तब क्या?
    पोर्टल पर मौजूद जानकारी के मुताबिक, 60 वर्ष की आयु प्राप्त करने के बाद कामगार को कोई कार्रवाई करने की आवश्यकता नहीं है। ई-श्रम परियोजना के तहत उन्हें उनका आधिकारिक लाभ प्राप्त रहेगा।
  2. रजिस्टर्ड कामगार की मृत्यु होने पर क्या?
    रजिस्टर्ड कामगार की मृत्यु होने की स्थिति में कामगार द्वारा नॉमिनी बनाए गए व्यक्ति या परिवार के सदस्य को संबंधित दस्तावेजों के साथ ई-श्रम पोर्टल/सीएससी पर दावा दायर करना होगा। वे अपने संबंधित बैंकों से भी संपर्क कर सकते हैं।
  3. क्या जीवनभर मान्य होगा ई-श्रम कार्ड?
    ई-श्रम कार्ड में 12 अंकों का यूनिवर्सल अकाउंट नंबर यानी यूएएन रहेगा। ये कार्ड पूरे देश में हर जगह वैध रहेगा। यूएएन नंबर एक स्थायी नंबर होगा अर्थात् एक बार प्रदान किए जाने के बाद, यह कामगार के लिए अपरिवर्तित रहेगा। ई-श्रम कार्ड जीवन भर के लिए मान्य है। लिहाजा इसके रिन्युअल की कोई आवश्यकता नहीं है। कामगार नियमित रूप से अपना विवरण, मोबाइल नंबर, वर्तमान पता आदि अपडेट कर सकते हैं।
  4. कब अपडेट करना होगा खाता?
    अपने खाते को सक्रिय रखने के लिए, वर्ष में कम से कम एक बार अपना खाता अपडेट करना आवश्यक है। ई-श्रम पोर्टल पर जाकर या सीएससी के माध्यम से कामगार अपना विवरण अपडेट कर सकते हैं।
  5. क्या संगठित क्षेत्र के कामगार भी ले सकते हैं फायदा?
    ई-श्रम कार्ड केवल असंठित क्षेत्र के कामगारों के लिए है। लिहाजा ईपीएफओ या ईएसआईसी के मेंबर ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन नहीं कर पाएंगे।
  6. असंगठित कामगार और असंगठित क्षेत्र का क्या अर्थ है?
    कोई भी कामगार जो गृह-आधारित कामगार, सेल्फ इंप्लॉइड कामगार या असंगठित क्षेत्र में कार्यरत वेतन भोगी कामगार है और ईएसआईसी या ईपीएफओ का सदस्य नहीं है, उसे असंगठित कामगार कहा जाता है। असंगठित क्षेत्र में ऐसे प्रतिष्ठान/इकाइयां शामिल हैं जो वस्तुओं/सेवाओं के उत्पादन/बिक्री में लगी हुई हैं और 10 से कम कामगारों को नियोजित करती हैं। ये इकाइयां ईएसआईसी और ईपीएफओ के अंतर्गत कवर नहीं हैं।
  7. ई-श्रम कार्ड पर क्या बीमा का फायदा भी है?
    ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्टर्ड श्रमिक को 2 लाख रुपये का दुर्घटना बीमा कवर (Accidental Insurance Cover) दिया जाएगा। पोर्टल पर रजिस्टर्ड श्रमिक यदि दुर्घटना का शिकार होता है तो मृत्यु या फिर पूर्ण विकलांगता की स्थिति में 2 लाख रुपये की धनराशि दी जाएगी। वहीं, अगर श्रमिक आंशिक रूप से विकलांग होता है तो इस बीमा योजना के तहत वह एक लाख रुपये का हकदार होगा।
  8. रजिस्ट्रेशन के लिए आयुसीमा क्या है और कौन से डॉक्युमेंट जरूरी हैं?
    ई-श्रम कार्ड के लिए 16 से 59 साल का कोई भी शख्स रजिस्ट्रेशन करवा सकता है। कामगार द्वारा ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने के लिए निम्नलिखित दस्तावेज आवश्यक हैं- आधार संख्या,आधार से लिंक मोबाइल नंबर, बैंक खाता। यदि किसी कामगार के पास आधार से लिंक मोबाइल नंबर नहीं है, तो वह निकटतम सीएससी पर जा सकता है और बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण के माध्यम से रजिस्ट्रेशन कर सकता है।
  9. क्या रजिस्ट्रेशन के लिए कोई शुल्क है?
    रजिस्ट्रेशन ई-श्रम पोर्टल https://eshram.gov.in/ के जरिए कामगार या तो खुद कर सकता है या फिर कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) पर जाकर करा सकता है। रजिस्ट्रेशन पूरी तरह से नि:शुल्क है। कामगारों को पोर्टल या कॉमन सर्विस सेंटर पर रजिस्ट्रेशन के लिए कोई भुगतान नहीं करना पड़ेगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Featured Post

BA BSC MA Admit Card 2021 (1st 2nd 3rd ) Year यहाँ से डाउनलोड करे |